छवि

अपने अगले कैरियर कदम की योजना कैसे बनाएं

और यदि आप मेरे जैसे जिज्ञासु हैं तो मन में प्रश्न भी उठा होगा कि लोरेम इप्सम भला होता क्या है, और यदि मेरे जैसे आलसी हैं तो कभी किसी से पूछा नहीं होगा, खोज नहीं की होगी। कल इंटरनेट पर घूमते घामते इस सवाल का जवाब मिल गया। दरअसल यह जान-बूझ-कर-बेमतलब शब्द और वाक्य तब लिखे जाते हैं जब आप को किसी मुद्रलिपि (फॉण्ट) का परीक्षण करना हो। बेमतलब मसौदे से होता यह है कि आप का ध्यान मसौदे के अर्थ की तरफ न जा कर उस की शक्लो-सूरत पर जाता है। हिन्दी के लोरेम इप्सम का नमूना यह रहा्

और यदि आप मेरे जैसे जिज्ञासु हैं तो मन में प्रश्न भी उठा होगा कि लोरेम इप्सम भला होता क्या है, और यदि मेरे जैसे आलसी हैं तो कभी किसी से पूछा नहीं होगा, खोज नहीं की होगी। कल इंटरनेट पर घूमते घामते इस सवाल का जवाब मिल गया। दरअसल यह जान-बूझ-कर-बेमतलब शब्द और वाक्य तब लिखे जाते हैं जब

  • और यदि आप मेरे जैसे जिज्ञासु हैं तो मन
  •  उठा होगा कि लोरेम इप्सम भला होता क्या है, और यदि मेरे जैसे आलसी हैं तो क
  •  कल इंटरनेट पर घूमते घामते इस सवाल का
  • शब्द और वाक्य तब लिखे जाते हैं जब
  • Pऔर यदि आप मेरे जैसे जिज्ञासु हैं तो मन में प्रश्न भी उठा होगा कि लोरेम इप्सम भला होता क्या है, और यदि मेरे जैसे आलसी हैं तो कभी किसी से पूछा नहीं होगा

1. आप अपने करियर में अगले चरण से क्या चाहते हैं (या नहीं चाहते)?

और यदि आप मेरे जैसे जिज्ञासु हैं तो मन में प्रश्न भी उठा होगा कि लोरेम इप्सम भला होता क्या है, और यदि मेरे जैसे आलसी हैं तो कभी किसी से पूछा नहीं होगा, खोज नहीं की होगी। कल इंटरनेट पर घूमते घामते इस सवाल का जवाब मिल गया। दरअसल यह जान-बूझ-कर-बेमतलब शब्द और वाक्य तब लिखे जाते हैं जब आप को किसी मुद्रलिपि (फॉण्ट)और यदि आप मेरे जैसे जिज्ञासु हैं तो मन में प्रश्न भी उठा होगा कि लोरेम इप्सम भला होता क्या है, और यदि मेरे जैसे आलसी हैं तो कभी किसी से पूछा नहीं होगा, खोज नहीं की होगी। कल

2. आप किस प्रकार की कार्यस्थल में काम करना चाहते हैं?

सुनत सुचना खयालात यायेका अविरोधता गुजरना माहितीवानीज्य बदले मुक्त विकास जिम्मे लचकनहि आवश्यकत लाभो जिम्मे द्वारा सुस्पश्ट भाषा होसके कार्य खयालात वेबजाल और्४५० करते प्रति खयालात शारिरिक करके शीघ्र हैं। सुस्पश्ट सिद्धांत विचरविमर्श मजबुत मेमत अनुकूल करेसाथ चुनने लोगो परस्पर है।अभी लाभान्वित मानव केन्द्रिय

कई कैलोरी करने के लिए

सुनत सुचना खयालात यायेका अविरोधता गुजरना माहितीवानीज्य बदले मुक्त विकास जिम्मे लचकनहि आवश्यकत लाभो जिम्मे द्वारा सुस्पश्ट भाषा होसके कार्य खयालात वेबजाल और्४५० करते प्रति खयालात शारिरिक करके शीघ्र हैं। सुस्पश्ट सिद्धांत विचरविमर्श मजबुत मेमत अनुकूल करेसाथ चुनने लोगो परस्पर है।अभी लाभान्वित मानव केन्द्रिय

क्या आप इसे ठीक कर सकते हैं?

यदि आप तय करते हैं कि आप जो करते हैं उससे प्यार करते हैं, लेकिन सिर्फ बेहतर काम-जीवन संतुलन या अधिक पैसा चाहते हैं, तो क्या आप इन चीजों को अपने वर्तमान कार्यस्थल पर प्राप्त कर सकते हैं?

यदि संभव हो, तो अपने प्रबंधक के साथ बैठकर और अपने विचार साझा करना उचित है।

यदि आप चुनौती और करियर की प्रगति की कमी के बारे में चिंतित हैं, तो क्या आप अपने कार्यक्षेत्र को प्रशिक्षण और विस्तार करने के लिए कह सकते हैं? क्या आप वेतन वृद्धि पर बातचीत कर सकते हैं?

अपने प्रबंधक से बात करके, आप उजागर करने में सक्षम होंगे कि आपकी जरूरतों को पूरा किया जा सकता है या नहीं। वैकल्पिक रूप से, आप पाते हैं कि छोड़ने के अलावा कोई अन्य विकल्प नहीं है

अपनी टिप्पणी छोड़ दो


आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

रंग स्विचर